Blog | Kautilya

2018 में दुनिया की 7 सबसे खतरनाक मिसाइल कौन सी हैं

2018 में दुनिया की 7 सबसे खतरनाक मिसाइल कौन सी हैं

   Kautilya Academy    23-09-2019

2018 में दुनिया की 7 सबसे खतरनाक मिसाइल कौन सी हैं

हम 21वीं शताब्दी में परमाणु बम और मिसाइलों के युग में रह रहे हैं. दुनिया में सबसे शक्तिशाली मिसाइलों में से कुछ मिसाइल रूस, चीन अमरीका और भारत के पास हैं. इसमें कोई संदेह नहीं है कि इंटर-कॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल प्रौद्योगिकी का भविष्य है.



द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान, संयुक्त राज्य अमेरिका और सोवियत संघ हथियार बनाने के दौड़ में बड़ी संख्या में रक्षा सामग्री का उत्पादन कर रहे थे. दुनिया में शान्ति बनाए रखने के लिए राष्ट्रों ने परमाणु बम और परमाणु हथियारों को लेकर विभिन्न संधियों पर हस्ताक्षर किए हैं.



लेकिन, अभी भी बड़ी संख्या में हर साल मिसाइल ओर परमाणु बम का उत्पादन होता है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं कि दुनिया की 7 सबसे खतरनाक मिसाइल कौन सी हैं, इनकी मारक क्षमता क्या है और इनके निर्माण में किन तकनीकों का इस्तेमाल किया गया है इत्यादि.



दुनिया की 7 सबसे खतरनाक मिसाइल



1. R-36 Series (10,200 to 16,000 km) (रूस)





R-36 रूसी इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) और अंतरिक्ष लॉन्च वाहनों की एक श्रृंखला है. इसे शीत युद्ध के दौरान डिजाइन किया गया था. इस श्रृंखला की मिसाइलों को दुनिया में सबसे शक्तिशाली मिसाइल कहा जाता है. R-36M2 का सबसे पहला प्रसारण 1974 में किया गया था और तब से लेकर अब तक R-36 श्रृंखला में कई बदलाव किए जा चुके हैं. हम आपको बता दें कि R-36 में 10 से अधिक हथियार या वारहेड ले जा सकती है यानी इसको 10 अलग-अलग जगह पर टारगेट किया जा सकता है. वास्तव में यह मिसाइल बहुत अधिक वजन ले जा सकती है.



R-36 श्रृखंला की मिसाइल का अंतिम विकास, R-36M2 है जिसमें दस 750kt वारहेड और लगभग 11,000 किमी की रेंज है. इस श्रृखंला की मिसाइल दुनिया की सबसे लंबी इंटरकॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल है. इस एक मिसाइल से कई स्थानों को लक्षित किया जा सकता है. नाटो ने R-36M2 हथियार को SS-18 SATAN के रूप में नामित किया है अरबी में इसे शैतान कहा जाता है और इसकी रेंज 16000 km है.



2. LGM-30 Minuteman (13000 km) (अमरीका)



LGM-30 Minuteman दूसरे नंबर पर दुनिया की सबसे शक्तिशाली मिसाइल है. यह वायुसेना ग्लोबल स्ट्राइक कमांड के साथ सेवा में यू.एस. भूमि आधारित इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल है. इसकी रेंज 13,000 km है. यह 3 अलग-अलग परमाणु हथियारों को ले जा सकती हैं जो कि अलग-अलग स्थानों को लक्षित कर सकते हैं. यह अभी यू.एस. में एकमात्र भूमि आधारित इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल है.



3. Dongfeng-41 (DF-41) (12,000–15,000 km) (चीन)



Dongfeng-41 और DF-41 परमाणु ठोस ईंधन वाली रोड मोबाइल इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल है. इसकी रेंज 12,000-15,000 km है और दुनिया में कहीं भी हिट करने की क्षमता के साथ दुनिया की सबसे लंबी रेंज की मिसाइल है. ये कई पेलोड्स को ले जासकती है और मैक 25 की शीर्ष गति है.



क्या भारत एक गुप्त परमाणु सिटी बना रहा है?



4. M51 (10,000-11,000 km) (फ्रांस)



M51 एक फ्रेंच पनडुब्बी लॉन्च बैलिस्टिक मिसाइल (SLBM) है. यह मिसाइल फ्रेंच नौसेना द्वारा उपयोग की जाती है और इसे EADS एस्ट्रियम स्पेस ट्रांसपोर्टेशन द्वारा डिजाइन किया गया है. इस खतरनाक मिसाइल की रेंज 10,000-11000 km है और यह फ्रांस को सुपर पॉवर बनाता है. M51 को पूरी तरह से डूबे हुए पनडुब्बी द्वारा लॉन्च किया जा सकता है और इसमें 8 से 10 वॉरहेड ले जाने की क्षमता है. इसमें न केवल एक अच्छी रेंज है बल्कि यह पहली हड़ताल स्ट्राइक प्रतिरोधी सामरिक हथियार के रूप में भी कार्य कर सकती है.



5. UGM-133 Trident ll (12,000 km) (यूएस और यूके)



Trident II एक पनडुब्बी-लॉन्च बैलिस्टिक मिसाइल है. इस मिसाइल को 1990 में परिचालित किया गया था और बाद में अपग्रेड किया गया है. इसे Lockheed Martin Space Systems द्वारा बनाया गया था और इसका उपयोग यूनाइटेड किंगडम के यूएस और रॉयल नेवी द्वारा किया जाता है. Trident II, 14 वारहेड ले जा सकती है. विभिन्न संधिओं ने इस संख्या को कम किया है और वर्तमान में 4-5, 475kt हथियार की गई है. इसकी अधिकतम सीमा अपने हथियारों के भार से निर्धारित होती है और 7800 -12,000 km के बीच बदलती है. यह मिसाइल कई परमाणु हथियारों को ले जा सकती है और पानी के नीचे डूबे हुए एक पनडुब्बी द्वारा लॉन्च की जा सकती है.



जानें कैसे भारत ने पोखरण परमाणु परीक्षण को दुनिया की एजेंसियों से छिपाया था?



6. Jericho lll (11,500 km) (इजरायल)






क्या आप जानते हैं कि Jericho एक बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को दिया गया कोड नाम है. Jericho lll नवीनतम लंबी दूरी की और एक इंटरकांटिनेंटल



बैलिस्टिक मिसाइल है. इसकी रेंज 2000 km- 11,500 km है. यह मिसाइल लगभग 1000 किग्रा का पेलोड ले जा सकती है.



7. Agni 5 (8000 km) (भारत)




स्वदेशी विकसित, इंटरकांटिनेंटल, सतह से सतह, परमाणु सक्षम बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि श्रृंखला में अन्य मिसाइलों के विपरीत है. Agni-V अब तक का सबसे उन्नत सिस्टम है जिसमें नेविगेशन और मार्गदर्शन, वारहेड और इंजन के संदर्भ में इसमें कई नई प्रौद्योगिकियां शामिल हैं. यह तीन चरण की 17 मीटर लम्बी और लगभग 50 टन वजनी है. यह मिसाइल निर्दिष्ट सटीकता के कुछ मीटर के भीतर लक्ष्य बिंदु तक पहुंच सकती है क्योंकि इसमें Ring Laser Gyro based Inertial Navigation System (RINS) और सबसे आधुनिक और सटीक माइक्रो नेविगेशन सिस्टम (MINS) है. मिसाइल से लैस पहला रॉकेट इंजन इसे लगभग 40 किमी की ऊंचाई तक ले जाता है, दूसरा चरण इसे लगभग 150 किमी और तीसरा चरण Agni-V को पृथ्वी से लगभग 300 किमी की दूरी तक ले जाता है और अंत में लगभग मिसाइल 800 किमी की ऊंचाई तक पहुंच जाती है. इसे दुनिया की सबसे सटीक परमाणु मिसाइल माना जाता है.

Kautilya Academy App Online Test Series